Hindu Marriage Act (हिन्दू विवाह अधिनियम 1955)

हिन्दू विवाह अधिनियम (HMA) 1955 कुल 30 धाराये है, जिन्हे 5 अध्यायों या चरणो मे बांटा गया है ।

प्रस्तावना (Preliminary) 

संक्षिप्त नाम और विस्तार (Short title and extent)

Section-1

अधिनियम का लागू (Application of Act)

Section-2

परिभाषाये (Definitions)

Section-3

अधिनियम का सर्वोपरि प्रभाव (Overriding effect of Act)

Section-4

हिन्दू विवाह (Hindu Marriages)

हिन्दू विवाह के लिये शर्ते (Conditions for a Hindu marriage)

Section-5

विवाह संरक्षकता (Omitted)

Section-6

हिन्दू विवाह के लिये संस्कार (Ceremonies for a Hindu marriage)

Section-7

हिन्दू विवाह का रजिस्ट्रीकरण (Registration of Hindu marriages)

Section-8

दाम्पत्य अधिकारों का प्रत्यास्थापन और न्यायिक पृथक्करण (Restitution of Conjugal Right and Judicial Separation)

दाम्पत्य अधिकारों का प्रत्यास्थापन (Restitution of conjugal right)

Section-9

न्यायिक पृथक्करण (Judicial separation)

Section-10

विवाह की अकृतता और तलाक (Nullity of Marriage and Divorce)

शून्य विवाह (Void marriages)

Section-11

शून्यकरणीय विवाह (Voidable marriages)

Section-12

तलाक (Divorce)

Section-13

विवाह विच्छेद कार्यवाहियों मे प्रत्यर्थी को वैकल्पिक अनुतोष (Alternate relief in divorce proceedings)

Section-13A

पारस्परिक सम्मति से विवाह विच्छेद (Divorce by mutual consent)

Section-13B

विवाह के एक वर्ष के अन्दर तलाक के लिये कोई याचिका प्रस्तुत नही की जायेगी (No petition for divorce to be presented within one year of marriage)

Section-14

कब तलाक प्राप्ति व्यक्ति पुनः विवाह कर सकेंगे (Divorced persons when may marry again)

Section-15

शून्य और शून्य विवाह वाले बच्चों की विरासत (Legitimacy of children of void and voidable marriages)

Section-16

व्दिविवाह लिये दण्ड (Punishment of bigamy)

Section-17

हिन्दू विवाह के लिये कुछ अन्य शर्तो के उलंघन के लिये दण्ड (Punishment for contravention of certain other conditions for a Hindu marriage)

Section-18

क्षेत्राधिकार एवंम् प्रकिया (Jurisdiction and Procedure)

कोर्ट को किस याचिका को प्रस्तुत किया जाएगा (Court to which petition shall be presented)

Section-19

याचिकाओं की सामग्री और सत्यापन (Contents and verification of petitions)

Section-20

1908 के अधिनियम 5 का आवेदन (Application of Act 5 of 1908)

Section-21

कुछ मामलों में याचिकाओं को हस्तांतरित करने की शक्ति (Power to transfer petitions in certain cases)

Section-21A

अधिनियम के तहत याचिकाओं के परीक्षण और निपटान से संबंधित विशेष प्रावधान (Special provision relating to trial and disposal of petitions under the Act)

Section-21B

दस्तावेज़ी प्रमाण (Documentary evidence)

Section-21C

कार्यवाही बन्द कमरे मे होना, उन्हे प्रकाशित या मुद्रित न किया जाना (Proceedings to be in camera and may not be printed or published

Section-22

कार्यवाहियों मे डिक्री (Decree in proceedings)

Section-23

विवाह-विच्छेद और अन्य कार्यवाही में प्रतिवादी के लिए राहत (Relief for respondent in divorce and other proceedings)

Section-23A

वाद लंबित रहते भरण-पोषण और कार्यवाहियों मे व्यय (Maintenance pendente lite and expenses of proceedings)

Section-24

स्थायी निर्वाहिका और भरण-पोषण (Permanent alimony and maintenance)

Section-25

बच्चों की हिरासत और जिम्मेदारी (Custody of children)

Section-26

सम्पत्ति का व्ययन (Disposal of property)

Section-27

डिक्रियों और आदेशो की अपीले (Appeals from decrees and orders)

Section-28

डिक्रियों और आदेशो का प्रवर्तन (Enforcement of decrees and orders)

Section-28A

व्यावृतियॉ और निरसन (Savings and Repeals)

व्यावृतियॉ (Savings)

Section-29

निरसन (Repealed)

Section-30

Leave a Reply