धारा- 123, युद्ध करने की परिकल्पना को सुगम बनाने के आशय से छिपाना, (IPC Section 123. Concealing with intent to facilitate design to wage war)

धारा 123 क्या है?

धारा-123 के अन्तर्गत कोई व्यक्ति, ऐसी बातों को छुपाने या देश के खिलाफ युद्ध छेड़ने वाले लोगों को साथ देने के मामले में सजा दिए जाने का प्रावधान इसके लिए 10 साल कैद की सजा हो सकती है।
भारतीय दंड संहिता की धारा 123 के अनुसार-
जो कोई भारत सरकार के विरुद्ध युद्ध करने की परिकल्पना के अस्तित्वों को, जो ऐसे युद्ध करने को सुगम बनाने के आशय से इस प्रकार छिपाए, या यह सम्भाव्य जानते हुए कि इस प्रकार छिपाकर ऐसे युद्ध करने को सुगम बनाए, किसी कार्य, या किसी अवैध लोप व्दारा छिपाएगा, तो उसे किसी एक अवधि के लिए कारावास जिसे दस वर्ष तक बढ़ाया जा सकता है से दण्डित किया जाएगा, और साथ ही वह आर्थिक दण्ड के लिए भी उत्तरदायी होगा।

लागू अपराध

यदि कोई युद्ध करने की परिकल्पना को सुगम बनाने के आशय से छिपाता है, तो वह दंड का भागीदार होगा। ऐसे कृत्य के लिये वह दस वर्ष कारावास व आर्थिक दण्ड अथवा दोनो का भागीदार होगा । यह एक गैर-जमानती, संज्ञेय अपराध है और सत्र न्यायालय व्दारा विचारणीय है। यह अपराध समझौता करने योग्य नहीं है।
अपराधसजासंज्ञेयजमानतविचारणीय
युद्ध छेड़ने के लिए एक षडयंत्र के माध्यम से इरादे को छिपाना10 साल + जुर्माना संज्ञेयगैर जमानतीयसत्र न्यायानय व्दारा

Leave a Reply