fbpx

किसान क्रेडिट कार्ड योजना 2020

किसान क्रेडिट कार्ड (KCC)

यह योजना सबसे पहले अपने भारत में वर्ष 1998 राष्ट्रीय कृषि एवम ग्रामीण विकास बैंक, योजना के तहत तैयार किया गया । जिसका मुख्य उद्देश्य कृषि विकास को बढ़ावा देना है। साथ ही इसका उद्देश्य किसानों को वित्तीय सहायता और पशुपालन, मछली पालन तक को भी पूरा करने उद्देश्य है ।
इस योजना के तहत किसानों एवम उनकी फसलों के जोखिम तक की कवर किया जाता है । किसानों को प्रीमियम 5 वर्ष के अंतराल तक लोन व ब्याज देयता पूर्ण करना होता है ।

किसान क्रेडिट कार्ड योजना

इस योजना के भारत देश के प्रत्येक किसानों के लिए सरकार व्दारा Kisan Credit Card Scheme के तहत, उन जरूरत मंद किसानों, जो वित्तीय अभाव होने के कारण खेती एवम् अपने फसल की देखभाल नही कर पा रहे है तो वह किसान इस योजना के तहत 1 लाख 60 हजार रुपए तक का किसान क्रेडिट कार्ड के तहत लोन बिना किसी गारंटी के ले सकते है और साथ ही इस लोन की ब्याज देयता 7% प्रतिवर्ष होगी ।
किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत किसान लाभार्थियों द्वारा अगर लोन की राशि 1 वर्ष के भीतर चुका देता है तो उसे 3% की छूट और साथ ही 2% की सब्सिडी , यानी कुल उसे पूरे वर्ष में 2% ब्याज देयता होगी ।
इस योजना में 1 वर्ष के अंतराल भुगतान समय से करने पर आपके किसान क्रेडिट कार्ड में 10% लिमिट की बढ़ोत्तरी भी, अर्थात् प्रतिवर्ष उन किसान लाभार्थियों को अच्छा लाभ उठाएंगे, जो समय से लोन का भुगतान चुका रहे है ।
इस योजना को धीरे धीरे सभी किसान भाइयों को जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है, जबकि अब तक पूरे देश में लगभग 10 करोड़ किसानों ने किसान क्रेडिट कार्ड के लिए रजिस्ट्रेशन करा चुके है, जब की लगभग 8.50 करोड़ किसानों व्दारा इस योजना का लाभ लिया जा रहा है । यह योजना जिले के प्रत्येक सरकारी बैंक में उपलब्ध है ।
Active KCC List

किसान क्रेडिट कार्ड के लिए पात्रता

  • सभी किसान – व्यक्ति / संयुक्त कृषक मालिक
  • किरायेदार किसान, मौखिक कम और शेयर फसलें आदि।
  • किरायेदार किसानों सहित SHG या संयुक्त देयता समूह।

विशेषतायें एवं फायदे

  • केसीसी खाते में क्रेडिट बैलेंस पर बैंक दर को बचाने के लिए ब्याज प्राप्त करें।
  • सभी केसीसी उधारकर्ताओं के लिए नि: शुल्क एटीएम सह डेबिट कार्ड 
  • ब्याज उपकर @ 2% P.A. रुपये तक की ऋण राशि के लिए उपलब्ध है। 3 लाख
  • शीघ्र पुनर्भुगतान के लिए अतिरिक्त ब्याज सबवेंशन @ 3% प्रति वर्ष
  • सभी केसीसी ऋणों के लिए अधिसूचित फसलें / अधिसूचित क्षेत्र फसल बीमा के अंतर्गत आते हैं
  • 1 वर्ष के लिए ऋण की मात्रा का मूल्यांकन खेती की लागत, फसल के बाद के खर्च और खेत के रखरखाव की लागत के आधार पर किया जाएगा ।
  • बाद के 5 वर्षों के लिए वित्त के पैमाने में वृद्धि के आधार पर ऋण को मंजूरी दी जाएगी ।
  • साधारण ब्याज @ 7% प्रति वर्ष एक वर्ष के लिए या देय तिथि तक का शुल्क लिया जाएगा, जो पहले था।
  • नियत तारीखों के भीतर पुनर्भुगतान न करने की स्थिति में कार्ड दर पर ब्याज लगाया जाता है।
  • नियत तारीख से अधिक ब्याज अर्धवार्षिक रूप से लिया जाएगा।
  • जिन फसलों के लिए ऋण दिया गया है, उनके लिए प्रत्याशित कटाई और विपणन की अवधि के अनुसार पुनर्भुगतान अवधि तय की जा सकती है।

आवश्यक दस्तावेज-

  • आवेदन पत्र में विधिवत् भरा हुआ है
  • पहचान प्रमाण- मतदाता पहचान पत्र / पैन कार्ड / पासपोर्ट / आधार कार्ड / ड्राइविंग लाइसेंस आदि
  • एड्रेस प्रूफ: वोटर आईडी कार्ड / पासपोर्ट / आधार कार्ड / ड्राइविंग लाइसेंस आदि

Apply Online

किसान क्रेडिट कार्ड योजना के तहत जो भी किसान इस योजना का लाभ लेने से छूट रहा है वह जल्द से जल्द इस योजना का लाभ, उठाए। सरकार द्वारा किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के अंतर्गत किसान लोन पोर्टल भी खोल रखा है, जो किसान भाई बैंक से किसान क्रेडिट कार्ड योजना का लाभ नही ले पा रहा है, वह ऑनलाइन पोर्टल पर जाकर इस योजना के अंतर्गत लाभ ले सकता है ।
किसान क्रेडिट कार्ड योजना (किसान क्रेडिट कार्ड पोर्टल) पर जाकर अपना आधार नम्बर डालकर रजिस्टर्ड करे । इसके बाद बाद अपनी खेती का पूर्ण विवरण देते हुये, लगभग् 14 दिन की प्रकिया पूर्ण होने के पश्चात् आपके नजदीकी सरकारी बैंक से किसान क्रेडिट कार्ड प्राप्त किया जा सकता है ।

Leave a Comment